आईआईटी कानपुर बना प्रोग्रामिंग ओलंपियाड चैंपियन

0
61

कानपुर। आईआईटी कानपुर की टीम ने छत्रपति शाहू जी महाराज विश्वविद्यालय में आयोजित आईसीपीसी की प्रोग्रामिंग ओलंपियार्ड का खिताब जीत लिया है। विश्वविद्यालय में आयोजित प्रतियोगिता में देश भर की 19 आईआईटी समेत 100 से अधिक प्रौद्योगिकी संस्थानों के छात्र-छात्राओं ने हिस्सा लिया था, जिसमें आईआईटी कानपुर की फेसलेस मेन 3.1 टीम सबसे बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए सभी पर बीस साबित हुई। मुकाबले में दूसरा स्थान आईआईटी भुवनेश्वर की थ्री मस्केटियर्स और तीसरा आईआईटी रुड़की की टीम ने जीता।
छत्रपति शाहू जी महाराज विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. विनय कुमार पाठक ने विजेताओं को पुरस्कृत किया। पहले स्थान की विजेता टीम को नकद 25, उपविजेता को 15 और तीसरे स्थान की टीम 10 हजार रुपये का नकद पुरस्कार मिला।
कुलपति ने सभी प्रतिभागियों को शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा कि कंप्यूटर प्रोग्रामिंग में कई तरह की चुनौतियां हैं, जिनके समाधान ढूढ़ना बेहद जरूरी है। विश्वविद्यालय और आईसीपीसी के सहयोग से आयोजित प्रतियोगिता के माध्यम से ऐसे छात्रों की तलाश की जा रही है, जो प्रोग्रामिंग की समस्याओं पर ध्यान केंद्रित कर उन्हें हल कर सकें। ऐसे छात्रों की देश ही नहीं विदेश में काफी मांग है। उनके लिए नौकरी के कई अवसर हैं।
कंप्यूटर प्रोग्रामिंग ओलंपियाड की आयोजन समिति में डाॅ. संदेश गुप्ता, डाॅ. दीपक वर्मा, डाॅ. आलोक कुमार, शेषमणि तिवारी, शाह आलम, कमलकांत, शिव आधार यादव आदि मौजूद रहे।

विजेता लेंगे अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिता में हिस्सा
समन्वयक डाॅ संदेश गुप्ता ने बताया कि प्रतियोगिता के माध्यम से कंप्यूटर प्रोग्रामिंग के छात्रों को वैश्विक मंच प्रदान किया जा रहा है। यहां वे अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन कर भविष्य को बहुमुखी आयाम दे सकते हैं। विजेता टीम इंटरनेशनल काॅलेजिएट प्रोग्रामिंग कांटेस्ट नाम से दुनिया की सबसे बडी कंप्यूटर प्रोग्रामिंग प्रतियोगिता में हिस्सा लेगी।

विजयी टीम में शामिल छात्र
आईआईटी कानपुर-सत्यम राय, उधव वर्मा
आईआईटी भुवनेश्वर- सार्थक गुप्ता, अरिहंत, अक्षत
आईआईटी रुडकी- तेजस, लक्ष्य जोषी, रुद्रांष अग्रवाल

पांच घंटे में ढूढ़ने थे नौ सवालों के जवाब
ओलंपियाड में प्रतिभागियों को पांच घंटे के अंदर प्रोग्रामिंग की नौ प्रमुख समस्याओं के हल निकालने थे। सुबह दस बजे से प्रतियोगिता शुरू हो गई। प्रत्येक गलत उत्तर के लिए निगेटिव मार्किंग की गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here